आपका स्वागत है

Together, बच्चों को होने वाले कैंसर से पीड़ित किसी भी व्यक्ति - रोगियों और उनके माता-पिता, परिवार के सदस्यों और मित्रों के लिए एक नया सहारा है.

और अधिक जानें

बाल झड़ना

बाल-झड़ना (एलोपिशिया या गंजापन) कीमोथेरेपी और रेडिएशन थेरेपी सहित कुछ कैंसर इलाजों का एक दुष्प्रभाव है। बालों का बढ़ना नियंत्रित करने वाली कोशिकाएं तेज़ी से बढ़ने वाली कोशिकाएं हैं और ये कैंसर कोशिकाओं पर हमला करने वाले इलाजों से क्षतिग्रस्त हो सकती हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि बहुत से कैंसर इलाज उन कोशिकाओं पर हमला करते हैं जो तेज़ी से विभाजित और विकसित होती हैं, जैसे कैंसर कोशिकाएं और रोमकूप या बाल कूल की कोशिकाएं।

बाल झड़ने का जोखिम तथा यह कैसे और कब होता है, यह प्रत्येक इलाज के लिए और प्रत्येक रोगी के लिए भिन्न-भिन्न हो सकता है। कीमोथेरेपी और कैंसर की अन्य दवाओं के साथ बालों का झड़ना आमतौर पर अस्थायी होता है और इलाज समाप्त हो जाने के बाद बाल फिर से उगने लगते हैं। हालांकि, कुछ रोगियों में बालों की वृद्धि, संरचना या रंग में स्थायी परिवर्तन देखे जा सकते हैं, विशेषकर रेडिएशन थेरेपी के बाद।

बालों का झड़ना कैंसर का सामना कर रहे बच्चों और किशोरों के लिए काफी चिंता और परेशानी का कारण हो सकता है। यदि किसी विशेष इलाज के कारण बाल झड़ सकते हैं तो देखभाल टीम परिवारों को यह समझने में मदद कर सकती है और उन्हें बता सकती है कि इलाज से क्या अपेक्षा की जा सकती है।

कीमोथेरेपी बालों की वृद्धि को नियंत्रित करने वाली और रोमकूप या बाल कूप, जहां से बाल निकलता है, उसका भरण-पोषण करने वाली कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकती है। इसके कारण बाल झड़ सकते हैं और यह नए बाल को उगने से रोग सकता है।

कीमोथेरेपी बालों की वृद्धि को नियंत्रित करने वाली और रोमकूप या बाल कूप, जहां से बाल निकलता है, उसका भरण-पोषण करने वाली कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकती है। इसके कारण बाल झड़ सकते हैं और यह नए बाल को उगने से रोग सकता है।

कीमोथेरेपी के बाद बालों का झड़ना

सभी कीमोथेरेपी दवाएं बालों के झड़ने का कारण नहीं होती हैं। कुछ दवाओं से बाल झड़ने का बहुत अधिक जोखिम होता है। अन्य दवाओं के कारण बाल अक्सर कम झड़ते हैं या बालों का झड़ना कम दिखाई देता है। बालों के झड़ने का समय और उनकी मात्रा कीमोथेरेपी के प्रकार, खुराक और समय योजना पर निर्भर करती है।

बालों का झड़ना अक्सर सबसे अधिक सिर के सामने की ओर की त्वचा पर दिखाई देता है, जहां बाल उतने घने नहीं होते हैं। कुछ रोगी पूरी तरह से गंजे हो जाते हैं। अन्य रोगियों के बाल पतले हो जाते हैं या जगह-जगह से झड़ जाते हैं। क्योंकि कीमोथेरेपी पूरे शरीर पर संचारित होती है, इसलिए बालों के झड़ने में भौहें, पलकें और शरीर के बाल भी हो सकते हैं।

कई रोगियों के लिए, बाल झड़ना कीमोथेरेपी आरंभ होने के 2-4 हफ़्ते बाद शुरू होता है। बाल गुच्छों के रूप में गिर सकते हैं या धीरे-धीरे पतले हो सकते हैं। कीमोथेरेपी समाप्त होने के बाद, बाल फिर से उगना शुरू हो जाएंगे। नए बाल उगने में 2-3 महीने का समय लग सकता है। बाल की संरचना, विशेषकर पहली बार में पहले से अलग हो सकती है। कुछ रोगियों में “कीमो कर्ल्स” हो सकते हैं, जिसमें बाल पहले से अधिक घुंघराले उगते हैं।

कीमोथेरेपी के कारण बाल क्यों झड़ते हैं?

बालों का बढ़ना त्वचा की सतह के नीचे से होता है। सक्रिय वृद्धि से लेकर झड़ने तक प्रत्येक बाल, एक चक्र के विभिन्न चरणों से होकर गुज़रता है। कीमोथेरेपी बालों की वृद्धि को नियंत्रित करने वाली और रोमकूप या बाल कूप, जहां से बाल निकलता है, उसका भरण-पोषण करने वाली कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकती है। इसके कारण बाल झड़ सकते हैं और यह नए बाल को उगने से रोग सकता है।

कौन सी कैंसर दवाओं के कारण बाल झड़ते हैं?

बाल झड़ना, कुछ कीमोथेरेपी और लक्षित इलाज दवाओं सहित, कुछ कैंसर दवाओं से होने वाला एक आम दुष्प्रभाव है। बाल झड़ने की संभाव्यता और गंभीरता प्रत्येक दवा के अनुसार अलग-अलग होती है। परिवारों को निर्दिष्ट विशिष्ट दवा विधान के संबंध में बाल झड़ने के जोखिम को जानने के लिए अपने चिकित्सक या औषधि विक्रेता से बात करनी चाहिए।

बाल झड़ने के कारण से संबंधित उच्च-जोखिम वाली दवाएं बाल झड़ने के कारण से संबंधित मध्यम-जोखिम वाली दवाएं
ब्लीओमाइसिन (Blenoxane®)
साइक्लोफॉस्फोमाइड (Cytoxan®)
डॉनोरूबिसिन (Cerubidine®)
डोसिटेक्सलए (Docefrez®, Taxotere®) 
डॉक्सोरूबिसिन (Adriamycin®)
एपिरूबिसिन (Ellence®)
इटॉप्साइड (Toposar®)
इडारूबिसिन (Idamycin PFS)
इफोस्फामाइड (Ifex®)
इरिनोटेकान (Camptosar®)
पैक्लिटैक्सेल, टैक्सॉल (Abraxane®, Taxol®)
टेमोज़ोलोमाइड (Temodar®)
विस्मोडिगिब (Erivedge®)
वेमुराफेनिब (Zelboraf®)|
वोरिनोस्टैट (Zolinza®)
कार्बोप्लैटिन (Paraplatin®)
सिस्प्लेटिन (Platinol®)
साइट्राबाइन (Cytosar-U®, Depocyt®)
डब्राफेनिब (Tefinalar®)
डैक्टिनोमाइसिन (Cosmegen®)
फ्लूरोयूरासिल (Adrucil®)
जेम्सिटाबिन (Gemzar®)
हाइड्रोक्सीरिया
लोमुस्टिन (Gleostine®)
मेल्फलान, (Alkeran®, Evomela®)
मेथोट्रिक्सेट (Rasuvo®, Trexall®)
मिटोक्सेंट्रोन (Novantrone®)
सोराफेनीब (Nexavar®)
थिओटेपा (Tepadina®)
टोपोटेकन (Hycamtin®)
विनाब्लास्टाइन (Velban®)
विन्क्रिस्टाईन (Vincasar PFS®)

विभिन्न दवाओं के संभावित दुष्प्रभाव देखने के लिए दवाओं की सूची पर जाएं।

कीमोथेरेपी के दौरान बाल झड़ने का जोखिम निम्नलिखित कारकों पर निर्भर करता है:

  • कीमोथेरेपी की मात्रा – कीमोथेरेपी की अत्यधिक मात्रा से बाल झड़ने का जोखिम बढ़ जाता है।
  • दवा देने की विधि या मार्ग – मुंह से ली जाने वाली दवाओं की अपेक्षा IV कीमोथेरेपी से अधिक जोखिम हो सकता है।
  • कीमोथेरेपी की आवृत्ति – वे रोगी जिन्हें हर 2-3 हफ़्ते में कीमो मिलती है, साप्ताहिक कीमोथेरेपी विधान की तुलना में उनके बाल अधिक झड़ सकते हैं।
  • कीमोथेरेपी एकल दवा या संयोजन के रूप में दी गई है – संयोजन कीमोथेरेपी से अक्सर बाल झड़ने का जोखिम बढ़ जाता है।
  • अन्य कारक जो कीमोथेरेपी के दौरान बाल झड़ने के जोखिम को बढ़ा सकते हैं, उनमें निम्नलिखित शामिल हैं

रेडिएशन थेरेपी के बाद बाल झड़ना

रेडिएशन थेरेपी प्राप्त करने वाले रोगियों में आमतौर पर इलाज वाले भाग में बाल झड़ने की समस्या होती है। रेडिएशन के बाद बाल झड़ने की मात्रा इलाज किए गए भाग के आकार और रेडिएशन की मात्रा पर निर्भर करती है। कुछ रोगियों में उस भाग में पूरी तरह से बाल झड़ जाएंगे, जबकि अन्य रोगियों में बाल पतले हो सकते हैं। रेडिएशन के कारण बाल झड़ना कई बार स्थायी हो सकता है, विशेष रूप से यदि रेडिएशन की उच्च मात्राओं का उपयोग किया गया था। जो बाल वापस उगते हैं हो सकता है कि वे पहले जितने मोटे न हों और उनकी संरचना अलग हो। बाल रेडिएशन इलाज समाप्त होने के बाद आमतौर पर 3-6 महीने में उगते हैं।

बाल झड़ने की समस्या से निपटना: परिवारों के लिए सुझाव

बाल झड़ना कैंसर इलाज के सबसे अधिक परेशान करने वाले दुष्प्रभावों में से एक हो सकता है। बाल झड़ना बीमार होने की एक दृश्यमान चेतावनी है। वे बच्चे और किशोर जो अपने साथियों के साथ “सामान्य” रहने और तालमेल बिठाने की कोशिश करते हैं, उनके स्वास्थ्य और जीवन शैली पर इसका बहुत अधिक प्रभाव पड़ सकता है। शिशु जीवन विशेषज्ञ, सामाजिक कार्यकर्ता, और मनोविज्ञानी (साइकोलॉजिस्ट) सहित, देखभाल टीम, परिवारों की तैयार होने और संसाधन प्रदान करने में मदद कर सकते हैं। यह अन्य परिवारों से उनके अनुभव सुनने में भी उनकी मदद कर सकती है।

इलाज शुरू होने से पहले / बाल झड़ने से पहले

  • दुष्प्रभावों के बारे में देखभाल टीम से चर्चा करें। देखभाल टीम से बात करते हुए, बाल झड़ने की समस्या सहित, दुष्प्रभावों के लिए योजना बनाएं। बालों के झड़ने का हमेशा पूर्वानुमान नहीं लगाया जा सकता, लेकिन देखभाल टीम परिवारों को यह समझने में मदद कर सकती है कि किसी विशेष इलाज से बाल झड़ने की संभावना है या नहीं।
  • समय से पहले तैयारी करें। बालों का झड़ना अचानक या क्रमिक हो सकता है। ऐसा होने पर यह आश्चर्यजनक और डरावना हो सकता है, भले ही आपको यह अपेक्षित हो। नहाते समय बाल गिर सकते हैं, इन्हें आप तकिए पर या अपने कंघे में देख सकते हैं। एक बाल जीवन विशेषज्ञ आयु-अनुकूल जानकारी का उपयोग करते हुए बच्चों को तैयार करने में परिवारों की मदद कर सकता है।
  • बाल झड़ने पर उनके लिए एक योजना बनाएं। कुछ रोगी बाल झड़ने से पहले अपने बालों को छोटा करवा लेते हैं या अपना सिर मुंडवा लेते हैं। अन्य रोगी प्रतीक्षा कर सकते हैं कि देखें आगे क्या होता है। यह समय एक मज़ेदार हेयरकट या बालों के रंग को आज़माने का हो सकता है। किसी भी डाई या रासायनिक उत्पाद का उपयोग करने से पहले देखभाल टीम से अवश्य पूछें। इस बात का भी ध्यान रखें की डाई बालों को नुकसान पहुंचा सकती है और इससे भी बाल झड़ सकते हैं।
  • सिर ढकने के विकल्पों पर विचार करें। इससे आपको बाल झड़ने से पहले टोपियों, स्कार्फ़ और विग के बारे में विचार करने में मदद मिल सकती है। सिर ढकने की चीज़ों की खरीदारी रोगियों को कुछ नियंत्रण की भावना और निजी पसंद का आभास दे सकती है। रोगियों को अपनी निजी शैली और आराम के बारे में सोचने के लिए प्रोत्साहित करें। विभिन्न प्रकार के विकल्प उपलब्ध हैं और वे व्यक्तित्व को व्यक्त करने, लिंगभेद करने और सामाजिक संपर्क को बढ़ावा देने का एक तरीका हो सकते हैं। बच्चों के लिए विशेष रूप से डिज़ाइन किए गए विभिन्न आकारों और शैलियों की टोपियां और विग उपल्ब्ध हैं।

विग या टोपी चुनना

कुछ रोगी टोपी, स्कार्फ़, मफ़लर या विग पहनना चुन सकते हैं। अन्य रोगियों को सिर ढकने की चीज़ें पहनना असुविधाजनक लग सकता है। यह रोगियों और परिवारों के लिए अपनी निजी पसंद हो सकती है। विचार करने योग्य कारकों में निम्नलिखित शामिल हैं:

  • आराम
  • निजी अभिव्यक्ति
  • गरमाहट/धूप से सुरक्षा
  • कीमत
  • पहनने में आसानी
  • रखरखाव में आसानी

बच्चों के बहुत से अस्पताल उन संगठनों के साथ भागीदारी करते हैं जो ज़रूरतमंद रोगियों को टोपी, स्कार्फ़ और विग प्रदान करने में मदद करते हैं। एक सामाजिक कार्यकर्ता परिवारों को विकल्पों का पता लगाने और यह समझने में मदद कर सकता है कि बीमा द्वारा क्या कवर किया गया है या क्या कवर नहीं किया गया है।

 

इलाज के दौरान / बाल झड़ना

  • त्वचा की कोमलता बनाए रखें। बाल और सिर की त्वचा साफ़ करने के लिए किसी सौम्य शैम्पू का उपयोग करें, जैसे कि कोई बेबी शैम्पू। नरमी से धोएं और ज़्यादा जोर से न रगड़ें। बालों को एक तौलिए से थपथपा कर सुखाएं। प्रतिदिन बाल न धोएं। बालों में मुलायम ब्रश या चौड़े दांतों वाले कंघे से आहिस्ता से कंघी करें। बालों के साज़ो-सामान को सावधानी से इस्तेमाल करें जो कि उलझ सकते हैं या जिससे बाल खिंच सकते हैं।
  • त्वचा की रक्षा करें। नई खुली त्वचा अतिरिक्त संवेदनशील होती है। सिर की त्वचा लाल, पपड़ीदार और कोमल हो सकती है। त्वचा की देखभाल और सुरक्षा के लिए देखभाल टीम के निर्देशों का पालन करें, विशेषकर रेडिएशन थेरेपी के बाद। खुले में रहने के समय को कम करते हुए, टोपी पहनते हुए और सनस्क्रीन का उपयोग करते हुए त्वचा की धूप से सुरक्षा करें।
  • बच्चों से कठिन प्रश्नों और परिस्थितियों को संभालने के बारे में बात करें। बाल झड़ना बच्चों के वापस स्कूल और सामाजिक गतिविधियों में जाने के समय विशेष रूप से कठिन हो सकता है। बच्चों की यह सोचने में मदद करें कि वे प्रश्नों का, अपने रूप-रंग का और यहां तक की डराए या धमकाए जाने पर कैसे जवाब दे सकते हैं। अधिकांश मामलों में, लोग बस बीमारी के बारे में जानने को उत्सुक रहते हैं। समय से पहले जवाबों की तैयारी करें और अभ्यास करें, ताकि बातचीत कम अजीब हो। बच्चों को वे जैसे हैं वैसे ही बने रहने के लिए प्रोत्साहित करें और उन्हें रूप-रंग के कारण उन चीज़ों से दूर न रखें, जिन्हें वे करना पसंद करते हैं।

बहुत से बच्चे और किशोर कैंसर के दौरान और बाद में अपनी शारीरिक छवि संबंधी समस्याओं से जूझते रहते हैं। कुछ रोगियों में चिंतित रहने या अवसाद के लक्षण विकसित हो सकते हैं या वे मित्रों और सामाजिक गतिविधियों से कतराते रह सकते हैं। यदि शारीरिक छवि संबंधी समस्याएं बढ़ जाती हैं या दैनिक गतिविधियों को प्रभावित करती हैं, तो एक मानसिक स्वास्थ्य पेशेवर से बात करें।

 

इलाज के बाद / नए बालों का उगना

  • बालों और सिर की त्वचा की कोमलता से देखभाल करना जारी रखें। सिर पर बाल उगते समय उसे धूप से बचाएं।
  • बालों को रंगने या रासायनिक उत्पादों का उपयोग करने से पहले बालों के उगने तक प्रतीक्षा करें।
  • चिकित्सक से बात किए बिना विटामिन, सप्लीमेंट या स्थानीय बाल उगाने वाले उत्पादों का उपयोग न करें।
  • किसी ऐसे पेशेवर हेयर स्टाइलिस्ट को ढूंढें जिसने कैंसर रोगियों के साथ काम किया हुआ हो और जो बाल बढ़ने की प्रक्रिया के दौरान सलाह दे सकता हो।

प्रत्येक रोगी का बाल झड़ने की समस्या का सामना करने का तरीका अलग-अलग होता है। जो चीज़ एक व्यक्ति के लिए मददगार हो सकती है, वो हो सकता है कि दूसरे व्यक्ति के लिए मददगार साबित न हो। जैसे कि, मित्र और परिवार अक्सर रोगी को संबल देने के लिए खुद भी अपने सिर मुंडवाना चाहते हैं। कुछ रोगियों के विषय में, यह उन्हें ऐसा महसूस कराने में मदद कर सकता है कि वे अकेले नहीं हैं। लेकिन अन्य रोगियों के संबंध में, इससे उन्हें और बुरा महसूस हो सकता है। कुछ रोगियों का कहना है कि अपने परिवार या मित्रों को बिना बालों के देखना उन्हें एक बार फिर याद दिलाता है कि उन्हें कैंसर है और इससे उनका जीवन पूरी तरह से सामान्य स्थिति में नहीं लौट पाता। परिवार और मित्र रोगी से सीधे पूछ सकते हैं कि उन्हें किस चीज़ से प्रोत्साहन मिलता है।

रोगियों के जीवन में, बाल झड़ने की समस्या का सामना करते समय अक्सर बहुत से उतार-चढ़ाव आते हैं। जीवन की घटनाएं, शर्मनाक पल, सिर ढकने की समस्या से निपटना या केवल बाल झड़ने और बाल फिर से उगने की लंबी प्रक्रिया नई चुनौतियों और भावनाओं को प्रस्तुत कर सकती हैं। हताशा, चिंता, संकोचपन, उदासी और क्रोध सभी सामान्य भावनाएं हैं, जो किसी भी समय सामने आ सकती हैं। किसी विश्वसनीय दोस्त, विशेष रूप से किसी साथी रोगी या उत्तरजीवी व्यक्ति से बात करना संबल प्रदान कर सकता है। किसी भी चीज़ का सामना करना एक प्रक्रिया है। यदि नकारात्मक भावनाएं अधिक बढ़ जाती हैं या दैनिक गतिविधियों में व्यवधान उत्पन्न करती हैं, तो अपनी देखभाल टीम से बात करें। मदद के लिए विभिन्न प्रकार के संसाधन और मानसिक स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हैं।

बालों के झड़ने और कैंसर के बारे में सामान्य प्रश्न

क्या कीमो से मेरे बाल झड़ जाएंगे? यह कई बातों पर निर्भर करता है। कुछ कीमो दवाओं से बाल झड़ना एक बहुत ही आम समस्या है। हालांकि, कीमो से हमेशा ही बाल नहीं झड़ते हैं। हो सकता है कि कुछ रोगियों के बाल न झड़ें। अन्य रोगियों के बाल पतले हो सकते हैं। कुछ कीमोथेरेपी से, बाल पूरी तरह से झड़ जाते हैं, जिसमें भौहों, पलकों और शरीर के बाल भी शामिल हैं। कीमो का विशेष प्रकार और आपको प्राप्त होने वाली खुराक से बाल झड़ने के जोखिम और उसके होने के तरीके का निर्धारण होगा।

कीमो के बाद मेरे बाल कब झड़ेंगे? आमतौर पर, बाल कीमो शुरू होने के बाद 2-3 हफ़्ते में झड़ना शुरू होते हैं। बालों के झड़ने की समस्या को कीमो शेड्यूल के आधार पर शीघ्र अथवा बाद में देखा जा सकता है।

क्या मेरे बाल कीमो के बाद फिर से उग जाएंगे? कीमो के बाद बालों का झड़ना आमतौर पर अस्थायी होता है। लेकिन इलाज समाप्त होने के बाद बाल फिर से उगने में कुछ समय लग सकता है। अधिकांश रोगियों में कीमो पूरी होने के बाद 2-3 महीनों में ही बाल बढ़ने लगते हैं। नए बाल बिल्कुल “ठुड्डी पर निकले रोएं” की तरह दिख सकते हैं और बालों के बढ़ने के कालचक्र के सामान्य स्थिति में आने के साथ वह भरने लगते हैं। बाल को पूरी तरह मोटा होने में 6-12 महीने लग सकते हैं। जिन बच्चों के बाल लंबे हैं, उनके माता-पिता को उन्हें यह समझाना होगा कि उनके बाल लंबे होने में लंबा समय लग सकता है। औसतन, बाल प्रति वर्ष लगभग 6 इंच बढ़ते हैं।

क्या रेडिएशन के बाद मेरे बाल झड़ जाएंगे? रेडिएशन थेरेपी के बाद बालों का झड़ना सामान्य तौर पर शरीर में इलाज प्राप्त भागों तक ही सीमित रहता है। जिन रोगियों के सिर के अलावा शरीर के अन्य भागों में रेडिएशन दी जाती है, उनके सिर के बाल नहीं झड़ेंगे जब तक कि उन्हें इसके साथ कीमो या अन्य दवाएं नहीं दी जाती हैं, जिनसे बाल झड़ते हैं।

क्या मैं कीमो के दौरान बालों का झड़ना रोक सकता हूं? वर्तमान में, कीमोथेरेपी लेने वाले बच्चों में बालों का झड़ना रोकने के लिए कोई सुरक्षित और प्रभावी तरीका उपलब्ध नहीं है। कैंसर से पीड़ित वयस्कों में बालों का झड़ना रोकने में, कूलिंग कैप का उपयोग करके सिर को ठंडा करने से कुछ संभावित फ़ायदे दिखाई दिए हैं। हालांकि, यह शोध सीमित है और इससे बच्चों में सुरक्षा और प्रभावशीलता के बारे में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। कैंसर में कूलिंग कैप के बारे में नीचे और अधिक पढ़ें।

बाल झड़ने के बारे में अधिक जानकारी पाने के स्रोत