आपका स्वागत है

Together, बच्चों को होने वाले कैंसर से पीड़ित किसी भी व्यक्ति - रोगियों और उनके माता-पिता, परिवार के सदस्यों और मित्रों के लिए एक नया सहारा है.

और अधिक जानें

शिक्षा संबंधी सहायता

दीर्घकालीक योजना बनाना सफलता की कुंजी है

कैंसर के इलाज के दौरान आमतौर पर बच्चे और किशोर  शिक्षा जारी रख सकते हैं।

स्कूल उनके जीवन में सामान्य होने की भावना वापस लाने में मदद करता है।

शोध से पता चला है कि  लंबे समय तक जीवित रहने वाले जिन लोगों इलाज के दौरान स्कूल  जाना जारी रखा था, उनमें  बेहतर सामाजिक कौशल एवं  ज़्यादा आत्मविश्वास मिला और जिन बच्चों ने घर पर शिक्षा ली उनकी तुलना में उन्हें शैक्षिक समस्याएं होने की संभावनाएं भी कम हो गई।

प्रत्येक मामला अलग होता है। कैंसर एक दीर्घकालिक बीमारी है।

मरीज को किस प्रकार का कैंसर है, उसके आधार पर इलाज में कई सप्ताह से 2 वर्ष या उससे भी अधिक समय लग सकता है।

इलाज के बाद, रोगी ऐसे लक्षणों का अनुभव कर सकता है जिन्हें दीर्घकालिक या देरी से प्रभाव के रूप में जाना जाता है और जिससे शिक्षण प्रभावित हो सकता है।

इलाज के शुरुआत में पढ़ाई की योजना बनाना और उसका नियमित रूप से आंकना महत्वपूर्ण है।

इलाज के दौरान स्कूल जाना जारी रखने के लिए सुझाव:

  • आपके बच्चे को क्या चाहिए यह जानने के लिए सवाल पूछें।
  • पता करें कि कौन कौन से संसाधन उपलब्ध हैं।
  • संवाद बनाये रखें। 
  • स्थिति के अनुसार अनुकूल बनें।
शिक्षक के हाथ कागज पर किसी स्थान की ओर इशारा कर रहे हैं  और साथ ही कैंसर के मरीज ने हाथ में पेंसिल पकड़ी हुई है।

कैंसर के इलाज के दौरान स्कूली शिक्षा जारी रखना संभव है।

सवाल पूछें

सही सवाल पूछकर शिक्षा की योजना बनाना शुरू करना:

अस्पताल में पूछने के लिए सवाल:

  • क्या मेरा बच्चा इलाज के दौरान स्कूल जा सकता है?
  • अगर नहीं, तो इलाज केंद्र कौन-सी  शिक्षा की सेवाएं प्रदान करता है?
  • मैं उपयुक्त व्यक्ति से कैसे संपर्क कर सकता हूं?
  • क्या कोई स्कूल का कोई  ऐसा व्यक्ति है जो स्कूल के साथ संवाद और उपयुक्त सेवाओं को स्थापित करने में सहायता कर सकता है?

आपके बच्चे के स्कूल से पूछे जाने वाले सवाल:

  • स्कूल में ऐसा व्यक्ति कौन होगा  जिससे संपर्क  किया जा सके ?
  • मेरे बच्चे को शिक्षा में व्यस्त रखने का सबसे उचित रास्ता क्या है?
  • क्या किसी विशेष दस्तावेज़ या प्रपत्र को बच्चे के चिकित्सक द्वारा हस्ताक्षरित किए जाने की आवश्यकता है?
  • मेरा बच्चा उसके सहपाठियों से फ़ोन, ई-मेल या स्काइप के ज़रिए कैसे जुड़ेगा और सहयोग करेगा?

उपलब्ध संसाधनों के बारे में पता करें

बच्चों के कैंसर का इलाज करने के लिए अस्पताल इतना बड़ा है कि वह मरीजों की सहायता के लिए शिक्षा की सेवाएँ देगा। फ़र्मा अस्पताल के आधार पर भिन्न  होता है।

  • अस्पताल के भीतर  स्कूल का संचालित होता है
  • स्थानीय शिक्षा प्रणाली द्वारा शिक्षा की सेवाएं प्रदान की जाती हैं
  • एक सहकार व्यक्ति जो सेवाओं को समन्वित करने में मदद कर सकता है। कभी-कभी वह व्यक्ति एक नर्स या सामाजिक कार्यकर्ता हो सकता है।
इलाज के शुरुआत में शिक्षा की योजना बनाएं और उसका नियमित रूप से आंकलन करें। इस तस्वीर में, कैंसर से पीड़ित छोटा मरीज टेबल पर बैठकर शिक्षा  के काम में व्यस्त है।

इलाज के शुरुआत में शिक्षा की योजना बनाएं और उसका नियमित रूप से आंकलन करें।

संवाद बनाये रखें

आपके बच्चे की पाठशाला के साथ नियमित संवाद से यह सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी कि प्रक्रिया सुगम रहे।

स्कूल के मामलों के बारे में संपर्क करने के लिए 2 सहकार लोगों को नामित करने पर विचार करें – एक  स्कूल प्रतिनिधि और एक अस्पताल के शिक्षा कार्यक्रम के साथ वाला व्यक्ति। यह व्यवस्था सुनिश्चित करेगी कि साझा की गई जानकारी सुसंगत और सटीक है।

स्कूल में पहले से ही एक  नामित व्यक्ति हो सकता है। प्राथमिक स्कूलों में अक्सर बच्चे के शिक्षक या प्रधानाध्यापक  मदद करेंगे। माध्यमिक और उच्च स्कूलों में यह एक परामर्शदाता हो सकता है।

परिचयात्मक बैठक रखना सहायक है  जिसमे बच्चे के माता-पिता,  गृहशाला के शिक्षक, अस्पताल के शिक्षा के प्रतिनिधि और बच्चे (यदि थोड़े बड़े हैं) शामिल हों।

यह फ़ोन के माध्यम से उन परिवारों के लिए की जा सकती है जो घर से दूर हैं। प्रत्येक व्यक्ति सवाल पूछ सकता है। टीम लक्ष्य को निर्धारित कर सकती है।

इन विषयों पर चर्चा करें:

  • कितनी बार बच्चे या किशोर की शिक्षा छूट सकती है
  • इलाज  शिक्षा उपलब्धि, सोचने के कौशल, ध्यान देने की क्षमता और भावनात्मक स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित कर सकता है
  • स्कूल और अस्पताल के लिए एक दूसरे के साथ जांच करने के लिए एक नियमित सारणी
  • एक नियमित सारणी ताकि रोगियों पर बोझ न पड़े लेकिन उनके पास अगली श्रेणी में जाने के लिए आवश्यक ज्ञान हो
  • वैकल्पिक योजनाएं यदि मरीज बीमारी के कारण शिक्षा के काम को पूरा नहीं कर पाते हैं
  • घर संबंधी सेवाएं
  • कक्षा में सुविधा जब मरीज स्कूल में वापस आता है तो उसे 504 योजना के तहत शामिल किया जाएगा।
अस्पताल और अपने बच्चे की स्कूल में बातचीत करके शिक्षा की  सेवाओं और संसाधनों के बारे में जानें। सवाल पूछने से डरें नहीं। इस तस्वीर में कैंसर के इलाज से गुजर रहा एक बच्चा शिक्षा का काम पूरा कर रहा है।

अस्पताल और अपने बच्चे की स्कूल में बातचीत करके शिक्षा की  सेवाओं और संसाधनों के बारे में जानें। सवाल पूछने से डरें नहीं।

हिमायती बनें

योजना लागू होने के बाद अपने बच्चे की आवश्यकताओं को बढ़ावा दें और सुनिश्चित करें कि वे पूरी हों। बड़े बच्चे और किशोर भी अपनी आवश्यकताओं की हिमायत कर सकते हैं।

सहायता लेने से मत हिचकिचाएं । आपके परिवार का एक भरोसेमंद सदस्य या दोस्त इसका ध्यान रखने में आपकी सहायता कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आपके धार्मिक प्रार्थना स्थल या सामुदायिक केंद्र में संसाधन हो सकते हैं।


समीक्षा की गई: जुलाई 2019