आपका स्वागत है

Together, बच्चों को होने वाले कैंसर से पीड़ित किसी भी व्यक्ति - रोगियों और उनके माता-पिता, परिवार के सदस्यों और मित्रों के लिए एक नया सहारा है.

और अधिक जानें

पैरेंटरल पोषण

पैरेंटरल पोषण क्या है?

पैरेंटरल पोषण (पीएन) नसों में (आईवी) दिया जाने वाला पोषण होता है, जिसे एक नस में लगाई नली के माध्यम से दिया जाता है। इसका प्रयोग तब किया जाता है, जब रोगी उन सभी पोषक तत्वों को प्राप्त करने में सक्षम नहीं होता है जो उन्हें मुंह से या एंटरल (ट्यूब) से दिया जाता है। पैरेंटरल पोषण को खून के प्रवाह में सीधे तरल पदार्थ के रूप में दिया जाता है। यह कैलोरी और पोषक तत्व प्रदान करता है, जिसकी रोगी को आवश्यकता होती है।

आंशिक या संपूर्ण पोषण समर्थन के लिए पैरेंटरल पोषण का प्रयोग किया जा सकता है। संपूर्ण पोषण समर्थन को कुल पैरेंटरल पोषण (टीपीएन) के रूप में जाना जाता है।

पैरेंटरल पोषण के लिए विभिन्न प्रकार की आईवी नलियों का उपयोग किया जा सकता है। इनमें शामिल है:

  • सतही शिरापरक नली। अल्पकालिक पैरेंटरल पोषण के लिए, नली को बांह की नस में लगाया जा सकता है। इसे प्राय: आईवी या सतही आईवी कहा जाता है।
  • केंद्रीय शिरापरक कैथेटर (नली)। सर्जन कैथेटर (नली) को उस बड़ी शिरा में डाल सकता है, जो हृदय की ओर जाती है। केंद्रीय शिरापरक कैथेटर (नली) में पिक लाइनें, सेंट्रल लाइनें और पोर्ट शामिल हैं। कई बच्चों में कैंसर के इलाज के लिए केंद्रीय शिरापरक कैथेटर (नली) लगाया जाता है और वे कैथेटर (नली) से जुड़े लुमेन के माध्यम से पोषण प्राप्त कर सकते हैं। केंद्रीय शिरापरक कैथेटर (नली) को लंबी अवधि के पैरेंटरल पोषण के लिए तरजीह दी जाती है।

जब संभव हो, मुंह या खिलाने वाली नली द्वारा पोषण प्रदान करना सबसे अच्छा होता है। इन पद्धतियों से पाचन अधिक प्राकृतिक तरीके से होता है। कैंसर से पीड़ित बच्चों में, यह हमेशा संभव नहीं होता है। पैरेंटरल पोषण की आवश्यकता तब हो सकती है, जब:

  • बच्चे की पाचन प्रणाली पोषक तत्वों को अवशोषित करने के लिए ठीक से काम नहीं कर रही हो।
  • बच्चे की पाचन प्रणाली की सर्जरी हुई हो।
  • बच्चे की आंतें अवरोधित हुई हों।
  • बच्चे को बहुत उल्टी या दस्त हो रहा हो।
  • बच्चे को एंटरल पोषण (नली से खिलाने पर) की समस्या हो।

पैरेंटरल न्यूट्रिशन सॉल्यूशन में पोषक तत्व

पीएन सॉल्यूशन फार्मेसी में तैयार किया जाता है। यह स्टेराइल द्रव्य है, जिसमें प्रमुख पोषक तत्वों का मिश्रण होता है। आयु, वजन और स्वास्थ्य जैसे कारकों के आधार पर रोगी की विशिष्ट पोषण आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए फॉर्मूला अनुकूलित किया जाता है।

टीपीएन बैग साफ़ प्लास्टिक से बना है और जिसमें सफेद द्रव्य पदार्थ भरा हुआ है

पैरेंटरल पोषण सॉल्यूशन स्टेराइल तरल पदार्थ है, जिसमें प्रमुख पोषक तत्वों का मिश्रण होता है और इसे मरीज की विशिष्ट पोषण ज़रूरतों को पूरा करने के लिए अनुकूलित किया जाता है।

कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा 3 मुख्य पोषक तत्व हैं, जो ताकत के लिए कैलोरी प्रदान करते हैं और शरीर के विभिन्न कार्यों में इस्तेमाल किए जाते हैं।

  • कार्बोहाइड्रेट ताकत के लिए शरीर को कैलोरी प्रदान करते हैं। पीएन में कार्बोहाइड्रेट को डेक्सट्रोज के स्वरूप में ग्लूकोज (चीनी) के रूप में प्रदान किया जाता है।
  • प्रोटीन मांसपेशियों के निर्माण, ऊतक की मरम्मत, संक्रमण से लड़ने और कोशिकाओं को कार्य करने की अनुमति देने में महत्वपूर्ण होते हैं। प्रोटीन शरीर को ऊर्जा देने के लिए कैलोरी भी प्रदान करता है। प्रोटीन अमीनो एसिड से निर्मित होते हैं। शरीर द्वारा कुछ अमीनो एसिड को निर्मित किया जा सकता हैं, लेकिन दूसरे अमीनो एसिड आहार से ज़रूर मिलने चाहिए।
  • वसा (लिपिड) कैलोरी और ऊर्जा प्रदान करती हैं और इसे विभिन्न प्रकार के कोशिका के कार्यों के लिए प्रयोग किया जाता है। पीएन में प्रदान किए गए वसा आवश्यक फैटी एसिड की कमी को रोकने के लिए महत्वपूर्ण हैं। वसा शरीर के अंगों की रक्षा करने का काम करते हैं, शरीर की गर्मी को बनाए रखने में मदद करते हैं और कुछ विटामिन भी संग्रहीत करते हैं, ताकि शरीर उन्हें अवशोषित कर सके।

पीएन यह भी प्रदान करता है:

  • इलेक्ट्रोलाइट्स, जो हड्डी, नस, अंग और मांसपेशियों के काम के लिए महत्वपूर्ण होती हैं। टीपीएन में शामिल किए जा सकने वाले इलेक्ट्रोलाइट्स, कैल्शियम, पोटैशियम, फ़ास्फोरस, मैग्नीशियम, सोडियम, क्लोराइड और एसीटेट होते हैं।
  • आपके बच्चे को बढ़ने और स्वस्थ रहने में विटामिन मदद करते हैं। आमतौर पर टीपीएन में मल्टीविटामिन में विटामिन ए, बी, सी, डी, ई और के शामिल होते हैं।
  • खनिज और ट्रेस तत्व विकास और शरीर के काम के लिए महत्वपूर्ण होते हैं। इनमें जस्ता, लोहा, तांबा, क्रोमियम, मैंगनीज और सेलेनियम शामिल हो सकते हैं।
  • पानी, जो सामान्य हाइड्रेशन को बनाए रखने के लिए उचित मात्रा में द्रव सुनिश्चित करता है।

पैरेंटरल पोषण कैसे दिया जाता है

आमतौर पर पैरेंटरल पोषण की शुरुआत अस्पताल में होती है। एक चिकित्सक, फ़ार्मासिस्ट और पंजीकृत आहार विशेषज्ञ यह निर्धारित करने के लिए एक साथ काम करते हैं कि रोगी को प्रत्येक दिन कितनी कैलोरी और अन्य पोषक तत्वों की ज़रूरत है। पीएन के प्रतिक्रिया की निगरानी के लिए खून की जाँच का प्रयोग किया जाता है। पीएन मिश्रण को आवश्यकतानुसार समायोजित किया जाता है।

आमतौर पर रोगियों को प्रति दिन एक बैग पीएन सॉल्यूशन दिया जाता है। पीएन 2-इन-1) (डेक्सट्रोज और एमिनो एसिड) और 3-इन-1 (डेक्सट्रोज, एमिनो एसिड और लिपिड) सॉल्यूशन में आता है। यदि सॉल्यूशन में लिपिड होते हैं, तो बैग में अलग कक्ष होंगे। विभाजित पट्टी को हटाकर पोषक तत्वों को एक साथ मिश्रित करने की ज़रूरत होती है और डालने से ठीक पहले धीरे से फेंटे। सॉल्यूशन बैग को रोगी की आईवी या केंद्रीय लाइन से जोड़कर और निषेचन पंप का उपयोग करके दिया जाता है। पंप को एक निश्चित समय पर सॉल्यूशन देने के लिए सेट किया जाता है।

सतत पीएन को हर समय दिया जाता है। पीएन पहली बार शुरू होने पर इस पद्धति का प्रयोग किया जाता है। यह शरीर को यह सुनिश्चित करने के लिए समायोजित करने की अनुमति देता है कि पोषण की ज़रूरतों को पूरा किया जाए।

एक दिन में 24 घंटे से कम समय के लिए साइकिल्ड पीएन को निश्चित समय अवधि में दिया जाता है। पंप को 20, 16 या 12 घंटे जैसे निर्धारित घंटों के लिए एक साइकल के अनुसार पीएन देने के लिए सेट किया जाता है। जैसे-जैसे साइकल का समय कम होता जाता है, निषेचन की दर बढ़ जाती है ताकि पूरा पीएन स्थिर हो।

साइकिल्ड पीएन के लाभ:

  • रोगी को पंप से दूर जाने और गतिविधियों में आसानी से भाग लेने के लिए समय मिलता है।
  • साइकिल्ड पीएन भूख का एहसास करा सकता है। सतत पीएन भूख को रोकता है, जो ओरल फ़ीडिंग तक ट्रैन्ज़िशन मुश्किल बना देता है।
  • साइकिल्ड भोजन के साथ होने वाले अधिक प्राकृतिक हार्मोन के प्रतिक्रिया को बढ़ावा दे सकता है।
  • पीएन-प्रेरित कोलेस्टेसिस का कम जोखिम होता है, यह एक स्वास्थ्य स्थिति होती है जहां पित्त प्रवाह में कमी या ठहराव होता है।

अधिकांश रोगियों ने दिन के दौरान कुछ घंटों की सामान्य गतिविधि की अनुमति देने के लिए रात भर साइकिल्ड पीएन को जारी रखा है। डिवाइस के आधार पर, पीएन निषेचन के दौरान हिलने-डुलने की ज्यादा स्वतंत्रता देने के लिए निषेचन पंप को बैकपैक में पहना जा सकता है।

पैरेंटरल पोषण की समस्याएं और दुष्प्रभाव

उचित पोषण सुनिश्चित करने और गंभीर दुष्प्रभावों को रोकने के लिए सावधानीपूर्वक निगरानी की ज़रूरत होती है। पीएन के साथ होने वाली कई समस्याओं को पीएन फॉर्मूला या निर्धारण को समायोजित करके प्रबंधित किया जा सकता है। संक्रमण को रोकने के लिए केंद्रीय शिरापरक कैथेटर (नली) की अच्छी देखभाल करना भी महत्वपूर्ण है। पीएन को कनेक्ट और डिस्कनेक्ट करने के दौरान उचित तरीके से हाथ धोने और कीटाणुनाशक तकनीक का उपयोग करना महत्वपूर्ण है।

पीएन की संभावित जटिलताओं में असामान्य ग्लूकोज स्तर, जिगर की समस्याएं, इलेक्ट्रोलाइट्स में बदलाव, विटामिन या खनिज की कमी और संक्रमण, थ्रोमबाउसिस या अवरोधन सहित नली से संबंधित समस्याएं शामिल हैं। पीएन कुछ दवाओं के काम करने के तरीके को भी बदल सकता है।

पीएन के साथ एक आम समस्या हाइपरग्लाइसेमिया या उच्च रक्त शर्करा है। उच्च रक्त शर्करा तब हो सकता है जब शरीर ग्लूकोज़ का अच्छी तरह से उपयोग नहीं कर सकता है और रक्त शर्करा का स्तर सामान्य से अधिक बढ़ जाता है। यह तब हो सकता है, जब पीएन बहुत जल्दी दिया जाता है ताकि शरीर शर्करा को संसाधित न कर सके। संक्रमण या स्टेरॉयड जैसी दवा के कारण भी यह हो सकता है। उच्च रक्त शर्करा के लक्षणों में सिरदर्द, प्यास लगना, कमजोरी या जी मिचलाना शामिल है। उच्च रक्त शर्करा जैसी समस्याओं को रोकने के लिए, पीएन में कार्बोहाइड्रेट (डेक्सट्रोज) की मात्रा धीरे-धीरे कई दिनों तक बढ़ाई जाती है। उच्च रक्त शर्करा या निम्न रक्त शर्करा कम सामान्य है, लेकिन पीएन के अचानक बंद होने पर ऐसा हो सकता है।

पीएन के दौरान निगरानी में ये मापने के लिए टेस्ट हो सकते हैं:

  • खून या पेशाब में ग्लूकोज़ का स्तर
  • खून में इलेक्ट्रोलाइट्स का स्तर
  • लिवर फ़ंक्शन टेस्ट्स
  • रक्त ट्राइग्लिसराइड का स्तर
  • मूत्र त्याग
  • शरीर का वजन

घर में पैरेंटरल पोषण

मरीज घर पर पीएन ले सकते हैं। घर जाने से पहले, परिवार में देखभाल करने वाले सदस्यों को सिखाया जाएगा कि कैसे:

  • पीएन सॉल्यूशन को स्टोर करें, संभालें और सक्रिय करें (हल्के से फेंटे)
  • मल्टीविटामिन और/या दवाओं को निषेचन बैग में डालें
  • पंप से कनेक्ट और डिस्कनेक्ट करें
  • निषेचन पंप का प्रयोग करें
  • कैथेटर (नली) की देखभाल करें
  • संक्रमण को रोकने के लिए कीटाणुनाशक तकनीक का इस्तेमाल करें
  • ग्लूकोज़ के लिए खून और/या पेशाब की जाँच करें
  • उत्पन्न हो सकने वाली समस्याओं पर ध्यान दें
  • आपात स्थिति में चिकित्सा सहायता प्राप्त करें

परिवारों के लिए सलाह

  • पीएन सॉल्यूशन के वितरण और स्टोरेज के लिए योजना। होम इन्फ्यूज़न सेवाएं एक बार में पीएन सॉल्यूशन (7 बैग तक) की एक सप्ताह की आपूर्ति दे सकती हैं। सुनिश्चित करें कि रेफ्रिज़रेटर में पर्याप्त स्टोरेज स्थान है और यह स्वच्छ है। एक दूसरे के ऊपर तीन से अधिक बैग न रखें।
  • सभी पीएन बैग को रेफ्रिज़रेटर में स्टोर किया जाना चाहिए और धूप से सुरक्षित रखना चाहिए। रेफ्रिज़रेटर का तापमान 36 ° फ़ारेनहाइट और 46 ° फ़ारेनहाइट के बीच होना चाहिए। कमरे के तापमान पर पीएन फॉर्मूला 24 घंटे के लिए अच्छा है। अगर ठीक से स्टोर नहीं किया गया है, तो बैग में जीवाणु पनप सकते हैं।
  • इस्तेमाल करने से लगभग दो घंटे पहले रेफ्रिज़रेटर से पीएन बैग को बाहर निकालें।
  • पीएन तैयार करने के लिए एक निश्चित स्थान का चयन करें। सुनिश्चित करें कि आपका कार्यक्षेत्र सुव्यवस्थित है। एक कठोर सतह का उपयोग करें, जिसे आसानी से साफ़ किया जा सके।
  • प्रत्येक रात को एक ही समय पर पीएन को कनेक्ट करें।
  • सामानों की सूची रखें। पता करें कि आपके पास कितने आइटम हैं और कब आपको ऑर्डर करने की आवश्यकता है।
  • निर्धारित जगह पर सामान को स्टोर करें ताकि ज़रूरत पड़ने पर आप आसानी से उसे पा सकें।
  • अपने चिकित्सक, फ़ार्मासिस्ट, डाइटिशियन और होम इन्फ्यूश़न कंपनी सहित संपर्क जानकारी की एक सूची रखें।
  • यदि आपको यात्रा में पीएन साथ ले जाने की ज़रूरत है, तो पहले से योजना बनाएं। आपको सॉल्यूशन को ठंडी जगह में या कूलर में रखने की आवश्यकता होगी। सुनिश्चित करें कि आपके पास यात्रा में लगने वाले समय के हिसाब से सभी सामान हैं और इस पर भी विचार करें कि आप पंप बैटरी को कैसे चार्ज करेंगे।

आपके बच्चे के लिए घर पर पीएन प्रदान करने के लिए आपको पीएन सॉल्यूशन, उपकरण और सामान की आवश्यकता होगी। आपके क्लिनिक और होम इन्फ्यूश़न सर्विस द्वारा वस्तुओं की आपूर्ति की जाएगी। इनमें ये शामिल हो सकते हैं:

  • पीएन सॉल्यूशन
    • मल्टीविटामिन्स
    • आपके चिकित्सक द्वारा लिखी गई आईवी दवाएं
  • उपकरण
    • निषेचन पंप
    • आईवी पोल
    • एम्बुलेटरी पंप ले जाने के लिए बैकपैक
  • सामान
    • एल्कोहल पैड
    • यूरिन डिपस्टिक (रक्त शर्करा की जाँच करने के लिए)
    • हेपरिन और सामान्य सेलाइन
    • ट्यूबिंग
    • बैटरीज़
    • बगैर नीडल के कनेक्टर

घर पर पीएन प्रदान करना काफ़ी मुश्किल हो सकता है। देखभाल करने वाली टीम, रोगियों और परिवारों के साथ घर में देखभाल के चरणों को सिखाने का काम करेगी और सुनिश्चित करेगी कि इसमें शामिल हर कोई सभी के साथ सहज महसूस करें। घर पर पीएन देने के लिए, परिवार के देखभालकर्ता को यह ज़रूर पता होना चाहिए:

  • पीएन सॉल्यूशन को हैंडल करें और तैयार करें। यदि पीएन एक ड्यूल चैंबर बैग में है (एक तरफ कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन तथा दूसरी तरफ वसा), तो बैग को ज़रूर सक्रिय करना चाहिए। सक्रिय करने के लिए रबर की पट्टी के छोर को पकड़े और इसे कड़े रॉड से दूर करें और छोड़ दें। हल्के से दूसरे सॉल्यूशन के साथ लिपिड का मिश्रण करने के लिए गूंधें।
  • पीएन में दवाएं और/या मल्टीविटामिन शामिल करें। मल्टीविटामिन्स विटामिन और खनिजों के मिश्रण होते हैं, जो रोगी की आवश्यकताओं पर आधारित होते हैं। आप जानेंगे कि आपके बच्चे को किस प्रकार के विटामिन प्राप्त होंगे और उन्हें सिरिंज में कैसे निकालना है और बैग में डालना है। पीएन सॉल्यूशन साफ़ द्रव के रूप में शुरू होता है। जब मल्टीविटामिन को शामिल किया जाता हैं, तो सॉल्यूशन का रंग बदलकर पीला हो जाएगा।
  • पीएन उपकरण और सामानों का इस्तेमाल करें। इसमें एंबुलेटरी पंप (पीएन देने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली मशीन), पीएन बैग को कील लगाना और इसके माध्यम से पीएन सॉल्यूशन चलाकर ट्यूबिंग को प्राइमिंग भरना शामिल है।
  • पीएन बैग को अपने बच्चे की केंद्रीय नली से कनेक्ट करें। नली के प्रकार के आधार पर चरण अलग-अलग होंगे।
  • अपने बच्चे के खून और/या मूत्र में ग्लूकोज़ के स्तर की जाँच करें। ये जाँच बताते हैं कि आपके बच्चे का शरीर पीएन में शर्करा को कितनी अच्छी तरह से प्रोसेसिंग कर रहा है। आपकी देखभाल टीम आपको बताएगी कि ये जाँच कब की जानी चाहिए।
  • संक्रमण को रोकने के लिए कीटाणुनाशक तकनीक का इस्तेमाल करें। पीएन में सब कुछ स्वच्छ रखना बेहद ज़रूरी है। आपके बच्चे की सेंट्रल लाइन में कीटाणु चिंताजनक रक्तप्रवाह संक्रमण का कारण बन सकते हैं।

संक्रमण की रोकथाम के चरणों में शामिल हैं:

  • बच्चों और पालतू जानवरों से दूर एक स्वच्छ, सूखी जगह पर सामानों को स्टोर करें।
  • साफ़-सुथरा, सूखा, व्यवस्थित कार्यक्षेत्र तैयार करें।
  • सामान को छूने से पहले ऐन्टीबैक्टिरीअल साबुन से अपने हाथ धोएं।
  • जब तक आप उनका इस्तेमाल करने के लिए तैयार नहीं होते हैं, तब तक पीएन सॉल्यूशन और सामान को पैकेज में ही रहने दें।
  • पीएन सॉल्यूशन और मल्टीविटामिन को रेफ्रिज़रेटर में स्वच्छ शेल्फ पर या खाने से अलग साफ़-सुथरे दराज में स्टोर करें।
  • अगर पीएन सॉल्यूशन 24 घंटे से अधिक समय तक रेफ्रिज़रेटर से बाहर रहा है, तो इसका उपयोग न करें।
  • पीएन बैग को हल्के से दबाकर रिसाव की जाँच करें। सुनिश्चित करें कि सॉल्यूशन साफ़ है और सामान्य प्रतीत होता है। अगर बैग में रिसाव है या यदि सॉल्यूशन मटमैला है या इसमें अस्थायी कण हैं, तो इस्तेमाल न करें। यदि आप 3-इन-1 सॉल्यूशन का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो यह लिपिड को सक्रिय करने के बाद दूधिया दिखाई देगा।
  • यदि आपको इसके साफ़-सुथरा होने की चिंता है, तो किसी भी सामान का इस्तेमाल न करें। एल्कोहल से उन वस्तुओं और सतहों को पुनः साफ़ करें, जिन्हें साफ़ किया जा सकता है। एक स्टेराइल टिप (जैसे टयूबिंग, सुई और सिरिंज) के साथ किसी भी ऐसे सामान को फेंक दें, जो नॉन-स्टेराइल सतह के संपर्क में आता है।

परिवारों को घरेलू स्वास्थ्य कंपनी का इस्तेमाल करने की आवश्यकता होगी ,जो होम इन्फ्यूश़न सेवाएं प्रदान करती हैं। कुछ मामलों में कंपनी क्लिनिक या अस्पताल से जुड़ी हो सकती है। आपकी देखभाल टीम आपको यह बताने में मदद कर सकती है कि आपके क्षेत्र में कौन से विकल्प दिए जा रहे हैं।

पीएन के होम इन्फ्यूश़न के लिए चिकित्सक के रेफ़रल की ज़रूरत होती है। घर पर देखभाल के लिए ट्रैन्ज़िशन से पहले, आपके बच्चे के क्लिनिक में नर्सिंग स्टाफ़ आपको घरेलू इन्फ्यूश़न कंपनी से संपर्क करने और सामान उपलब्ध कराने में मदद करेगा। आप सामान की पूर्ति और नर्स के घर पर आने और आपके बच्चे के पीएन को कनेक्ट करने के लिए होम इन्फ्यूश़न कंपनी के साथ मिलने का समय तय करेंगे। शुरुआती मुलाकात के बाद होम इन्फ्यूश़न कंपनी की एक नर्स सप्ताह में कम से कम एक बार लाइन केयर, प्रयोगशाला जाँचों और सामान की ज़रूरतों की देख-रेख के लिए घर का दौरा करेगी।

पीएन के लिए होम इन्फ्यूजन सेवाएं बीमा द्वारा कवर की जा सकती हैं। हालांकि यह आपकी पॉलिसी और बच्चे की चिकित्सा ज़रूरतों पर निर्भर कर सकता है। एक सामाजिक कार्यकर्ता, मरीज के वकील, बीमा मामले के प्रबंधक या होम केयर कंपनी के प्रतिनिधि सवालों के जवाब देने में मदद कर सकते हैं।

सामान और उपकरणों की विस्तृत सूची रखना सुनिश्चित करें। ऑर्डर करने के तरीके, स्टोरेज के निर्देश, आपके हाथ में आने वाली प्रत्येक वस्तु की मात्रा और कब और क्या ऑर्डर करना है, नोट्स में इसे शामिल करें। होम इन्फ्यूश़न कंपनी आपको वर्तमान सामान की ज़रूरतों, ऑर्डर देने और वितरण प्रक्रियाओं और उपकरणों के साथ समस्याओं का निवारण करने में भी मदद कर सकती है।

यदि आपके पास पीएन को लेकर प्रश्न हैं, तो अपने बच्चे के चिकित्सक, नर्स, फ़ार्मासिस्ट या आहार विशेषज्ञ से बात करें। घर जाने से पहले सुनिश्चित करें कि आपको मालूम है कि यदि कोई सवाल या समस्या आती है और किसी आपात स्थिति में क्या करना है, तो किससे संपर्क करें।


समीक्षा की गई: जून 2018