आपका स्वागत है

Together, बच्चों को होने वाले कैंसर से पीड़ित किसी भी व्यक्ति - रोगियों और उनके माता-पिता, परिवार के सदस्यों और मित्रों के लिए एक नया सहारा है.

और अधिक जानें

शारीरिक चिकित्सा (फिजियोथेरेपी)

शारीरिक चिकित्सा क्या है?

शारीरिक चिकित्सा एक प्रकार की ऐसी देखभाल है जो लोगों को बेहतर ढंग से आगे बढ़ने, बीमारी और चोट से उबरने और विकलांगता को रोकने में मदद करती है। शारीरिक चिकित्सा कराने वाला एक बाल चिकित्सक बच्चों का आंकलन और शारीरिक चिकित्सा करता है। इस चिकित्सा में अलग-अलग स्वास्थ्य समस्याओं के लिए व्यायाम, गतिशीलता और सक्रिय खेल का इस्तेमाल होता है। ताकत, संतुलन, लचीलेपन और समन्वय में सुधार करना इस चिकित्सा का लक्ष्य है। अन्य चिकित्सा शारीरिक लक्षणों और इलाज में सुधार करने में मदद कर सकते हैं। इनमें बर्फ, गर्मी, मैनुअल थेरेपी, अल्ट्रासाउंड और विद्युत उत्तेजना शामिल हैं। अस्पताल, क्लिनिक और/या घर पर शारीरिक चिकित्सा की जा सकती है।

बचपन में होने वाले कैंसर से पीड़ित बच्चों को शारीरिक चिकित्सा देते हुए

कैंसर से पीड़ित बच्चों के लिए शारीरिक चिकित्सा, शारीरिक स्वस्थता के साथ-साथ कैंसर के इलाज से उबरने में मदद कर सकती है।

शारीरिक चिकित्सा कैंसर से पीड़ित बच्चों के लिए निम्न मदद कर सकती है:

  • शारीरिक स्वस्थता और काम।
  • कैंसर के इलाज से उबरना।
  • मोटर कौशल (हाथ, उंगलियां और अंगूठे की मांसपेशियों का सही काम करना) और उसके विकास में समस्याएं।
  • विकास में होने वाली देरी और ज़रूरी काम करने में आने वाली दिक्कत की पहचान करना।
  • गतिशीलता और रोजमर्रा के काम।
  • चलने फिरने के सहायक यन्त्र (बैसाखी, व्हीलचेयर), ऑर्थोटिक्स और कृत्रिम अंग
  • सूजन, दर्द और प्रसार जैसे शारीरिक लक्षण।

शारीरिक चिकित्सा कराने वाला व्यक्ति खोजना

शारीरिक चिकित्सा कराने वाले व्यक्ति, शारीरिक चिकित्सा (पीटी या डीपीटी) में स्नातक डिग्री के साथ लाइसेंस प्राप्त स्वास्थ्य सेवा प्रदाता होते हैं। राज्य कानूनों या बीमा की स्थिति में शारीरिक चिकित्सा के लिए चिकित्सक के परामर्श की आवश्यकता हो सकती है। आपका चिकित्सक आपको ऐसे शारीरिक चिकित्सा कराने वाले व्यक्ति को खोजने में मदद कर सकता है जो बच्चों के लिए शारीरिक चिकित्सा करता है। आप भारतीय फिजियोथेरेपी संघ के माध्यम से भी शारीरिक चिकित्सा कराने वाले व्यक्ति को ढूंढ सकते हैं


समीक्षा की गई: जून, 2018